You are here
मंथन : उनकी बातों में दम था, इरादे चट्टानों जैसे मजबूत थे Bihar Events India 

मंथन : उनकी बातों में दम था, इरादे चट्टानों जैसे मजबूत थे

मेरी पत्नी पूजा पांडे जो कि अपनी निजी संस्थान ‘द प्लस एजुकेशन, सहरसा’ की डायरेक्टर हैं, ने भी काफी लोगों से मिलीं क्योंकि उनके लिए वहाँ कई ऐसे स्वजन थे जिनसे उन्हें फेसबुक के अतिरिक्त फोन पर भी बातें हुआ करती थी | वास्तव में ये कहा जाय तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी कि फेसबुक से मिलने के बाद जब...
दहेज की शर्त नहीं : मैनेजर रवि शर्मा के लिए चाहिए योग्य वधू Looking for Bride Matrimonial Uttar Pradesh 

दहेज की शर्त नहीं : मैनेजर रवि शर्मा के लिए चाहिए योग्य वधू

गुड़गांव में Agriculture Skill Council of India के मैनजर रवि शर्मा के लिए योग्य वधू चाहिए। दहेज की कोई शर्त नहीं है।  रवि के माता-पिता लखनऊ में बसे हैं। Biodata of RAVI SHARMA, Gurgaon Date of Birth 03/07/1988 ( 13.30 Hrs ) Birth Place Allahabad (U.P) Educational Qualification B.Sc. Hons in Biotech from Amity University Lucknow & MBA in Agri Business...
दहेज का लालच नहीं : वेदांत शर्मा के लिए योग्य वधू बताएं India Looking for Bride Uttar Pradesh 

दहेज का लालच नहीं : वेदांत शर्मा के लिए योग्य वधू बताएं

BIO-DATA OF VEDANT SHARMA PERSONAL INFORMATION NAME :- VEDANT SHARMA DATE OF BIRTH : 26.10.1986, TIME:- 04:00 AM BIRTHPLACE : ALLAHBAD (U.P.), CURRENT CITY :- NEW DELHI HEIGHT :- 5’5”, COMPLEXION:- FAIR CUM WHEATISH CULTURAL BACKGROUND RELIGION :- HINDU, CASTE :BHATT BRAHMIN GOTRA : VASHISTHA NADI : MADHYA (NON-MANGALIK) GANA : DEV, LANGUAGES : HINDI, ENGLISH EDUCATION BACHELOR OF PHYSIOTHERAPY,...
बिना ब्रह्मभट्टवर्ल्ड देखे, खाना खाने का मन नहीं करता Bihar India 

बिना ब्रह्मभट्टवर्ल्ड देखे, खाना खाने का मन नहीं करता

फेसबुक मित्र : एक अनुभव-1 कल तक तो ये फेसबुक चलाने वालों को निकम्मा कहते थे पर आज स्वयं राकेश चाचा क्या कह रहे?। झट मेरा मोबाइल लेकर भतीजे ने फट से फेसबुक बना डाला और बातों-बातों में मुझे फेसबुक चलाना भी सीखा डाला। जैसे ही मेरा प्रोफाइल बना, तडाक-तडाक फ्रेण्ड रिक्वेस्ट आने लगे। तबतक राजीव भाई भी भेंटा गया...
तौहीन क्यों समझते विवाह योग्य बच्चों का परिचय देने में ? India Maharashtra 

तौहीन क्यों समझते विवाह योग्य बच्चों का परिचय देने में ?

एडवोकेट रमेश शर्मा/ नवी मुंबई मेरा यह लेख महाराजगंज (यूपी) के भाई आलोक शर्मा जी और बहन श्रीमती बिंदु जी के लेख के आलोक में  तथा मेरे पहले के लेखों के क्रम में है- मैंने एक सुझाव दिया था हो सके तो पटना मंथन के शून्य काल या किसी अन्य चर्चा में इच्छुक अभिभावकों की ओर से “शादी योग्य युवक-युवतियों के परिचय”...
गृहिणी का मतलब सिर्फ खाना बनाना, ये सरासर गलत Bihar India Maharashtra 

गृहिणी का मतलब सिर्फ खाना बनाना, ये सरासर गलत

लोग समझते हैं कि गृहिणी का मतलब सिर्फ खाना बनाना। ये सरासर गलत है। गृहिणियाँ 24 घंटे व्यस्त होती है। गृहिणी एक ऐसी प्राणी है जिसमें अपार शक्ति, बुद्धि, सहनशक्ति होती है। गृहिणियाँ Time Management, पाक कला, गृहसज्जा और भी न जाने कितने गुणों में निपुण होती हैं। गृहिणियों के इन्हीं गुणों के कारण घर सुचारू रूप से चलता है...