You are here

Written by 

आज मंथन का आंकड़ा 251 पहुंचा India Uttar Pradesh 

आज मंथन का आंकड़ा 251 पहुंचा

आज मंथन का आंकड़ा 251 पहुंचामंथन का आमंत्रण -BBW दिल्ली मंथन में 30 सितम्बर रविवार तक कुल 251 स्वजनों का निबंधन (नया निबंधन: 20): (part3 की तस्वीरें क्र. सं. 1 से 14 तक)   1. SRI JAMUNA RAI (father of Anil Rai, Asansol) 2. SMT. MALTI DEVI (mother of Anil Rai)   3. MR.ANIL KUMAR RAI, (Mining Engr.), Asansol, W.B....
प्रेम-जगत में रहकर तुमने कितनों का दिल तोड़ दिया! Uncategorized 

प्रेम-जगत में रहकर तुमने कितनों का दिल तोड़ दिया!

कली फूल संवाद   इक दिन”नाज़” हुआ कलियों को, फूल से इठलाकर बोली उमर तुम्हारी बीत गई अब , हम सब खेलेंगे होली! अद्भुत, कोमल, कांति रूप ले,नेह-पन्थ को छोड़ दिया; प्रेम-जगत में रहकर तुमने कितनों का दिल तोड दिया! काँटों में छुप-छुपकर बस, सुंदरता का श्रृंगार किया; है आज नहीं, कोइ कहने वाला, तुमने मुझको प्यार किया पता नहीं,...
महाकवि भट्ट पद्माकर ऐसे सरस्वतीपुत्र जिन पर लक्ष्मी की कृपा सदा रही Bihar India 

महाकवि भट्ट पद्माकर ऐसे सरस्वतीपुत्र जिन पर लक्ष्मी की कृपा सदा रही

सुधाकर पांडेय ने लिखा है- “…पद्माकर ऐसे सरस्वतीपुत्र थे, जिन पर लक्ष्मी की कृपा सदा से रही। अतुल संपत्ति उन्होंने अर्जित की और संग-साथ सदा ऐसे लोगों का, जो दरबारी-संस्कृति में डूबे हुए लोग थे। …कहा जाता है जब वह चलते थे तो राजाओं की तरह (उनका) जुलूस चलता था और उसमें गणिकाएं तक रहतीं थीं।..” Written by Mahavir Prasad Bhatt/...
आनंद-भोज” में गरीबों के साथ असीम आनंद की अनुभूति Bihar India 

आनंद-भोज” में गरीबों के साथ असीम आनंद की अनुभूति

आइये, हम सब संकल्प लें कि अनाज की बर्बादी नही होने देंगें और उसी अनुपात में अनाज-साग-सब्जी अपने देश के गरीबों को समर्पित करेंगें लेखक: Bhatt Navin Kr Roy, पुलिस इंसपेक्टर, जमशेदपुर, झारखंड.   एक अनूठा प्रयास,“आनंद-भोज”, जिसके लिए जितनी भी सराहना हमारे मित्र पारस नाथ मिश्रा जी और उनकी संस्था सुभाष युवा मंच के सभी कर्मठ सदस्यों की की जाय,...
सुबह का साइंस: सूर्य की किरणें जीवन के लिए कितना जरुरी? Bihar Uttar Pradesh 

सुबह का साइंस: सूर्य की किरणें जीवन के लिए कितना जरुरी?

written by परशुराम शर्मा, Patna/Varanasi (गऊडांड, भोजपुर के मूल वासी परशुरामजी, जो सीनियर पत्रकार हैं, आजकल बात बे बात नामक सीरिज लिख रहे, एक किश्त यहाँ पेश हैं) 0-बनारस हिंदू वि.वि. के आईआईटी के दो वैज्ञानिकों ने खोज की है कि सूर्य की तरंगों से ‘हरित उर्जा’ पैदा हो सकती है। यह मानव जीवन के लिए एक क्रांतिकारी अविष्कार होगा।...
पहली महिला मुख्य न्यायाधीश भी हुई थीं लिंग भेद का शिकार! Bihar India 

पहली महिला मुख्य न्यायाधीश भी हुई थीं लिंग भेद का शिकार!

साथी जज हमेशा यह कहकर दूसरों से परिचय कराते थे- हमारी नई महिला जज से मिलिए। जैसे मैं महिला हूं यह नजर नहीं आ रहा हो। वे समारोह आदि में चाहते थे कि मैं चाय पानी का इंतजाम करूं। सेठ 5 अगस्त 1991 को हिमाचल प्रदेश हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश पद का शपथ ग्रहण करके भारत के किसी राज्य...
फेसबुक का मेरा अनुभव: बिंदु India Maharashtra 

फेसबुक का मेरा अनुभव: बिंदु

facebook से समझना आसान हो गया कि कौन Positive सोचवाला है और कौन Negative चाहे जो भी हो एक बात तो पक्की है, facebook के आने से लोगों को समझना आसान हो गया है कि कौन Positive सोच वाला है और कौन Negative सोच रखता है। जिन महिलाओं का न मायका है ठीक से न ससुराल है, उन्हें एक बहुत...
उपलब्धि : मुरली भरहवा में राजकुमार शुक्ल की प्रतिमा का अनावरण Bihar India 

उपलब्धि : मुरली भरहवा में राजकुमार शुक्ल की प्रतिमा का अनावरण

“वर्ष 2000 में पं० शुक्ल की 125वीं जयंती पर डाक विभाग की ओर से डाक टिकट जारी करना, फिर आज 2 अक्टूबर को मुरली भरहवा में पं० राजकुमार शुक्ल की प्रतिमा का मुख्यमंत्री द्वारा रिमोट से अनावरण किया जाना निश्चय ही हमारी बड़ी उपलब्धि है” राय तपन भारती समाज में कुछ लोग बिना प्रचार अपने मिशन में लगे रहते हैं और...
दीपक: बैंकिग सेक्टर में तेजी से बढता एक होनहार नौजवान Uttar Pradesh 

दीपक: बैंकिग सेक्टर में तेजी से बढता एक होनहार नौजवान

दीपक के बाबा चन्द्रभान शर्माजी अनेक वर्षों तक अदालत सरपंच रहे दीपक कुमार शर्मा के बाबा पंडित श्रीचन्द्रभान शर्मा जी अनेक वर्षों तक अदालत सरपंच के पद पर रहे। कई सारी ग्राम सभाओं को मिलाकर एक अदालत सरपंच का चुनाव होता था और शासन और प्रशासन में आपकी बहुत ही पहुँच थी। आपके पूर्व गृह राज्य मंत्री श्री राम कृष्ण द्विवेदी जी...
बदलाव लाओ: बैर भाव रखे बिना सुंदर सुघड़ आशियाना बनाओ India Jharkhand 

बदलाव लाओ: बैर भाव रखे बिना सुंदर सुघड़ आशियाना बनाओ

आओ, मिलकर आशियाना बनाए! हमारा यह सबल, समृद्ध, विग्य, कुलीन, ओजताधारी, दैदिप्यमानी, साहसी, वाक्चातुर्य वंशी भट्ट समाज कुछ अपनी करनी से और कुछ अन्य समाज के जनों की ईर्ष्या के कारण आर्थिक, सामाजिक, राजनीतिक और बौद्धिक स्तर पर च्युत हुए उससे उबरने की जरूरत है, और यह संभव होगा मिलकर बात करने से, न कि फेसबुक पर ट्वीट करने से।...
1 2 3 22