You are here
दीपक: बैंकिग सेक्टर में तेजी से बढता एक होनहार नौजवान Uttar Pradesh 

दीपक: बैंकिग सेक्टर में तेजी से बढता एक होनहार नौजवान

दीपक के बाबा चन्द्रभान शर्माजी अनेक वर्षों तक अदालत सरपंच रहे दीपक कुमार शर्मा के बाबा पंडित श्रीचन्द्रभान शर्मा जी अनेक वर्षों तक अदालत सरपंच के पद पर रहे। कई सारी ग्राम सभाओं को मिलाकर एक अदालत सरपंच का चुनाव होता था और शासन और प्रशासन में आपकी बहुत ही पहुँच थी। आपके पूर्व गृह राज्य मंत्री श्री राम कृष्ण द्विवेदी जी...
बदलाव लाओ: बैर भाव रखे बिना सुंदर सुघड़ आशियाना बनाओ India Jharkhand 

बदलाव लाओ: बैर भाव रखे बिना सुंदर सुघड़ आशियाना बनाओ

आओ, मिलकर आशियाना बनाए! हमारा यह सबल, समृद्ध, विग्य, कुलीन, ओजताधारी, दैदिप्यमानी, साहसी, वाक्चातुर्य वंशी भट्ट समाज कुछ अपनी करनी से और कुछ अन्य समाज के जनों की ईर्ष्या के कारण आर्थिक, सामाजिक, राजनीतिक और बौद्धिक स्तर पर च्युत हुए उससे उबरने की जरूरत है, और यह संभव होगा मिलकर बात करने से, न कि फेसबुक पर ट्वीट करने से।...
…और कुछ दिनों बाद मुझे एडमिन बना दिया गया: देवरथ India Maharashtra 

…और कुछ दिनों बाद मुझे एडमिन बना दिया गया: देवरथ

BRAHMBATTWORLD का मेरे 5 वर्षों का अनुभव (दूसरी किश्त) श्री Rajeeb Kumar Roy जी से हमारी मित्रता bbw की ही देन है। इस मंच ने ही हमें मिलाया और आज हमारी मित्रता की मिसाल दी जाती है। बात 2014 की है, जब श्री राजीव राय जी ने श्री राय तपन भारती जी और हमें अगस्त, 2014 में सपरिवार बंगलोर आमंत्रित किया।...
मंथन की पहली परिकल्पना मुंबई में हुई थी India Maharashtra 

मंथन की पहली परिकल्पना मुंबई में हुई थी

Brahmbattworld का मेरे 5 वर्षों का अनुभव (पहली किश्त) BBW से जुड़ने के बाद मुझमें जो पहला परिवर्तन आया वो यह था कि मैं लिखने लगा वो भी हिंदी में, और यह अभी भी जारी है, शुक्रिया BBW देवरथ कुमार/नवी मुंबई सभी बड़ों को सादर प्रणाम और मित्रों को नमस्कार। Facebook से मैं जुलाई, 2010 से जुड़ा हूँ, पर Brahmbhattworld से...
ब्रह्मभट्टवर्ल्ड की एडमिन टीम में कौन-कौन हैं? Delhi India 

ब्रह्मभट्टवर्ल्ड की एडमिन टीम में कौन-कौन हैं?

एडमिन टीम में समय-समय पर इसमें बदलाव भी होते रहे हैं. अभी एडमिन में रॉय तपन भारती, देवरथ कुमार, रंजना रॉय, रेखा रॉय, राकेश शर्माजी, प्रियंका रॉय, अमिता शर्मा, आलोक शर्मा, हरिओम प्रसाद भट्ट, त्रिपुरारी राय और श्री पीयूष राय हैं.    फेसबुक पर ब्रह्मभट्टवर्ल्ड ग्रुप के बहुत सदस्य अक्सर एडमिन टीम के विषय में उत्सुक रहते हैं. समय-समय पर इसमें बदलाव भी...
जागृति आई है लोग बढ़-चढ़ कर समाज सेवा करना चाहते: राजीव शर्मा Delhi India 

जागृति आई है लोग बढ़-चढ़ कर समाज सेवा करना चाहते: राजीव शर्मा

दुमका में रेवती नन्दन चौधरी ने मुझे लगभग 20 लोगों से मिलवाया, मनोज कुमार राय ,पंकज कुमार महाराज, विनोद सारस्वत, मणिकांत राय, स्व पंडित ललन महाराज के पूरे परिवार से,अरूण राय वकील साहब से एवं और सारे लोगों से जो समाजिक हैं और समाज के उत्थान मे भागीदारी करना चाहते हैं। लेखक: राजीव शर्मा, सदस्य, ब्रह्मभट्टवर्ल्ड दिल्ली मंथन समिति, नजफगढ, दिल्ली....
समझौता करो, नजरअंदाज करो, जाने दो,अरे छोड़ो भी India Maharashtra 

समझौता करो, नजरअंदाज करो, जाने दो,अरे छोड़ो भी

यदि एक स्त्री किसी भी बात का विरोध नही कर रही ,तकलीफ होते हुए भी तो ये उसका प्यार है अगले के प्रति ,,,भावुकता में आंसू भरकर लम्बी सांस लेकर आंसुओ को सूखा लेती है तो ये अगले की जीत नही हार है । किरण शर्मा/मुंबई #कब तक आखिर #कब तक हम झेले? कब तक चुप रहे कब तक न...
टीवी एंकर रमेश भट्ट क्यों उतरे राजनीति के अखाड़े में? Delhi India 

टीवी एंकर रमेश भट्ट क्यों उतरे राजनीति के अखाड़े में?

ओज से दीप्त इस उत्तराखंडी को मैंने एक पूर्ण समर्पित पत्रकार के रूप में पाया. पिछले 13 वर्षों के टीवी अनुभव के दौरान मैने जिन एंकरों को देखा उनमें रमेश अपनी ओजस्वी वाणी और समर्पण के लिहाज से मेरी किताब में पहली पायदान पर रहा है. Written by:  Padampati Padam, varanasi यदि यह कहूं कि मैं पूर्वजन्म पर विश्वास करता...
लीक से हटकर नया काम करना आसान नहीं होता: ROY TAPAN Delhi India 

लीक से हटकर नया काम करना आसान नहीं होता: ROY TAPAN

जिस शहर में यह मिलन समारोह होता वहाँ अपने समाज की उत्साही टीम इसके आयोजन का जिम्मा संभालती…आयोजन टीम के हर सदस्य की सलाह सुनी जाती, सब मिलकर आयोजन की जिम्मेवारी संभालते…इस प्रोग्राम में हम सब मेजबान होने के बावजूद अपने अपने परिवार के सदस्यों का निबंधन भी कराते…यानी हम सब मेजबान भी हैं और मंथन के प्रतिभागी भी… Written...
पहले समझते थे कि राजकुमार शुक्ल भूमिहार थे परंतु बाद में पता चला कि वे ब्रह्मभट्ट थे: संजय पासवान Bihar India 

पहले समझते थे कि राजकुमार शुक्ल भूमिहार थे परंतु बाद में पता चला कि वे ब्रह्मभट्ट थे: संजय पासवान

पहली बार संस्थान ने साहित्य के क्षेत्र में स्व.भूपेंद्र अबोध (मरणोपरांत), पत्रकारिता के क्षेत्र में श्री नवेन्दु सिन्हा, कला क्षेत्र में पं. ललन महाराज (मरणोपरांत) एवं सामाजिक कार्य के क्षेत्र में स्व. शशिभूषण राय (मरणोपरांत) को सम्मानित करने का निर्णय लिया राम सुंदर दसौंधी/PATNA पं. राज कुमार शुक्ल स्मृति संस्थान की ओर से राजेश भट्ट एवं अंबरीश कांत महाराज जी...
1 2 3 4 5 20